आज में आप को UPSC के बारे में बताऊंगा। आप को UPSC Full form in Hindi, UPSC क्या है?, UPSC के क्या कार्य है?, UPSC का form कैसे बारे आदि कई जानकारियां मिलेगी।

अगर आप पढ़ाई करते है और आप ने अभी तक UPSC का नाम नहीं सुना है तो सुन लीजिए और UPSC Full form in Hindi और UPSC के बारे में जान लीजिए।

UPSC के बारे में जानना जरूरी है क्योंकि यदि आप पढ़ाई कर के कुछ बनना चाहते है तो आप को UPSC के बारे में जानना चाहिए क्योंकि यही आप का भविष्य बना सकती है।

UPSC नाम उन लोगो के नशों – नाशो में बचा है जो लोग पढ़ाई कर के सरकारी जॉब पाना चाहते है और अपनी जिंदगी में कुछ अच्छा करना चाहते है।

UPSC एक भारत में जाना–माना नाम है, जाना – माना कैसे है? इसके बारे में अब हम बात करेंगे और साथ में यह भी बताऊंगा की UPSC का hindi में full form क्या है?

UPSC Full form in Hindi? UPSC का full form क्या है?

UPSC का full form “Union Public Service Commission” है और इसे hindi में “संघ लोक सेवा आयोग” के नाम से भी जाना जाता है।

UPSC क्या है?

आप ने UPSC की full form के बारे तो जान लिया है अब में आप को बताऊंगा UPSC क्या है? “UPSC एक भारत की प्रसिद्ध संस्था है जो भारत में universety के विद्यार्थियों कि बड़ी – बड़ी परीक्षाएं आयोजित करवाती है और यह भारतीय संस्था भारत Government द्वारा चलाई गई संस्था है।”

मुझे लगता है आप को UPSC के बारे में समझ में आ गया होगा। अगर सरल भाषा में कहें तो UPSC एक संस्था है जो भारत में परीक्षा आयोजित करके विश्वविद्यालयों से छात्रों का चयन करती है और उन्हें सरकारी जॉब की प्राप्ति करवाती है।

अगर आप भी अपने जीवन में सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं तो आपको भी UPSC के बारे में जरूर जाना चाहिए।

UPSC के अधिकारियों और कर्मचारियों के बारे में

यह संस्था भी अन्य संस्था के जैसी है आपको इस संस्था में एक अध्यक्ष और बाकी कर्मचारियों के पद भी मिलेंगे।

अगर हम बात करे इस के वर्तमान अध्यक्ष की तो UPSC के वर्तमान अध्यक्ष श्री अरविन्द सक्सेना है।

UPSC का head office धौलपुर हाउस, शाहजहाँ रोड, नयी दिल्ली में स्थित है।

अगर हम बात करें इनके कर्मचारियों और अधिकारियों के पदों की अवधि की तो इन्हें 6 वर्ष तक का कार्यकाल दिया जाता है और यह 65 वर्ष तक की आयु तक पद को प्राप्त कर सकते हैं।

UPSC मैं कम से कम 50% अर्थात आधे सदस्य किसी भी लोक सेवा मैं 10 वर्ष तक कार्यरत या 10 वर्ष के अनुभवी व्यक्तियों को लिए जाते है।

सबसे मुख्य बात, UPSC के इन सभी अधिकारियों या सदस्य को राष्ट्रपति के द्वारा चुना जाता है। अगर UPSC का कोई भी सदस्य अपनी शक्तियों का गलत इस्तेमाल करता है तो उसे राष्ट्रपति अवैध कार्य करने के लिए उससे उसका पद छीन सकता है और अगर UPSC के सदस्य स्वयं चाहे तो स्वयं भी राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा दे सकते हैं।

अब मैं आपको UPSC के बारे में और भी कई जानकारियां दूंगा तो आप हमारी यह पोस्ट पूरी तरह पढ़े क्योंकि इस पोस्ट में मैं आपको UPSC Full form in Hindi? UPSC क्या है? UPSC का इतिहास? आदि कई जनाकरिया दूंगा।

UPSC का इतिहास के बारे में

आप को UPSC के बारे में जानकारी दे दी है लेकिन अब में उसके इतिहास के बारे में बताऊंगा। पहले लोक सेवा आयोग की भर्ती की परीक्षा इंग्लैंड में ली जाती थी, बाद में देशवासियों की मांग और इच्छा के लिए UPSC अर्थात संघ लोक सेवा आयोग की स्थापना 1 अक्टूबर 1926 में संविधान के अंतर्गत की गई है।

इसे आप एक संवैधानिक संस्था भी कह सकते है क्योंकि इस की स्थापना संविधान के भाग -14, अनुच्छेद 315 और 323 के अंतर्गत की गई है।

UPSC एक भारतीय विद्यार्थियों के लिए बहुत बड़ा कदम था क्योंकि इस से करोड़ों की संख्या में लोगों को अपनी जिंदगी सुधारने का मौका मिला है। आज मैने आप को इस पोस्ट में UPSC Full form in Hindi? के साथ साथ और भी कई जानकारी दे दी है।

UPSC के कार्य क्या – क्या है?

आपने UPSC के बारे में तो बहुत कुछ जान लिया अब जानते हैं इसके क्या क्या कार्य हैं।

UPSC के कार्य
  • अगर बात कर इसके मुख्य कार्य की तो यह राष्ट्रीय स्तर पर विद्यार्थियों के लिए परीक्षाओं का आयोजन करता है।
  • UPSC भारत सरकार के लिए परीक्षा के माध्यम से सरकारी पदों के योग्य विद्यार्थियों का चयन करता है।
  • UPSC परीक्षाओं के अतिरिक्त लोक सेवा से संघ लोक सेवा में लोगो को भर्ती करता है।
  • UPSC संघ लोक सेवा के भर्ती के नियम भी UPSC के द्वारा बनाए जाते है।
  • UPSC के द्वारा विभागीय पदोन्नति समितियों (Departmental promotion committee) का आयोजन भी किया जाता है।

आदि कई प्रकार के मुख्य कार्य UPSC द्वारा किए जाते हैं। UPSC और भी कई प्रकार के कार्य करता है। मुझे आशा है कि आप को UPSC Full form in Hindi? के साथ – साथ आप को UPSC के कार्य भी समझ में आ गए होंगे।

UPSC कौन-कौन सी परीक्षाएं लेता है?

जैसा कि आप ने ऊपर जाना कि UPSC विश्वविद्यालयों के छात्रों के exam को आयोजित करता है लेकिन मैं आपको इस पोस्ट में उन सभी परीक्षाओं की जानकारी दूंगा और अब मैं आपको बताऊंगा कि UPSC कौन-कौन सी परीक्षाएं लेता है।

UPSC कुछ विशेष राष्ट्रीय परीक्षा लेता है और उनमें से कुछ अच्छे विद्यार्थियों का चयन करता है। इनमें कुछ खास परीक्षाएं होती है जिनका जिक्र मैं नीचे कर रहा हूं।

  • सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services) CSE
  • इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा (Engineering Services) ESE
  • सयुंक्त चिकित्सा सेवा (Combined Medical Services) CMSE
  • सयुंक्त रक्षा सेवा (Combined Defence Services) CDSE
  • राष्ट्रीय रक्षा अकादमी सेवा (National Defence Academy) NDA
  • नौसेना अकादमी (Navel Academy) NA
  • विशेष कक्षा रेलवे अपरेंटिस (Special Class Railway Apprentice) SCRA
  • भारतीय वन सेवा (Indian Forest Services) IFS
  • भारतीय आर्थिक सेवा (Indian Economic Services ) IES
  • संयुक्त भू-वैज्ञानिक और भूविज्ञान (Combined Geo-Scientist and Geologist ) CGGE
  • केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सहायक कमाडेंट) [Centeral Armed Police Force (Asst. Commandant) ] CAPF
  • अनुभाग अधिकारी/आशुलिपिक (ग्रुप A/B) विभागीय प्रतियोगी [Section Officers/Stenographer (Group A/B) Department Competitive ] SOSDC

जैसे कि आपने ऊपर देखा UPSC ऐसी और भी कई परीक्षाएं लेता है और छात्रों का चयन करता है। UPSC छात्रों के लिए बहुत ही अच्छी और उनको भविष्य को एक अच्छा रास्ता दिखाने वाली संस्था है।

UPSC की website के बारे में

अगर आप UPSC के बारे में और भी बहुत सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या उसकी कुछ latest जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं जैसे latest exam के बारे में या syllabus या अन्य किसी गतिविधियों के बारे में जानना चाहते हो तो आप UPSC की वेबसाइट www.upsc.gov.in पर जाकर वह जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

यह website UPSC की गवर्नमेंट website है जो आपके लिए बहुत ज्यादा मददगार होगी।

UPSC के exam और भर्ती की प्रक्रिया

UPSC में ज्यादातर लिखित रूप से परीक्षाएं ली जाती है और interview भी लिए जाते है। इन परीक्षाओं की मेरिट लिस्ट निकलती है और मेरिट लिस्ट छात्रों के अंको के अनुसार निकलती है और जिन छात्रों के अधिक अंक आते है उन का चयन किया जाता है।

कुछ परीक्षाओं की प्रक्रिया अलग रूप से होती है लेकिन ज्यादातर परीक्षाएं ऐसे ही ली जाती है।

UPSC परीक्षा देने की योग्यताएं

जैसा कि हमने ऊपर बताया UPSC राष्ट्रीय और बड़ी परीक्षाएं लेता है तो अगर आप एक स्कूल के छात्र है तो आप UPSC की परीक्षा नहीं दे सकते है।

UPSC की परीक्षा देने के लिए आप के पास graduation अर्थात स्नातक स्तर की पढ़ाई होना आवश्यक है। अगर आप अपने graduation का तीसरा वर्ष पूर्ण कर रहे है तो आप इस की परीक्षाओं के लिए apply कर सकते है।

UPSC बड़े स्तर की परीक्षा होने के कारण आप बिना स्नातक स्तर की पढ़ाई या graduation के आप UPSC की परीक्षाएं नहीं दे सकते है।

मुझे आशा है कि आप को UPSC परीक्षा देने की योग्यताएं समझ में आ गई होगी। UPSC से जुड़ी हुई और भी जानकारियां प्राप्त करने के लिए आप हमारी यह पोस्ट को पढ़ते रहिए।

UPSC से जुड़े कुछ प्रश्न उत्तर

  1. UPSC परीक्षाओं से आप को क्या प्राप्त होता है?
    उत्तर:- अगर आप UPSC परीक्षा की मेरिट लिस्ट में top आते है तो आप को एक अच्छी सरकारी जॉब मिल सकती है।
  2. क्या UPSC की परीक्षा science stream के विद्यार्थी दे सकते है?
    उत्तर:- UPSC बहुत तरह की परीक्षाएं आयोजित सभी परीक्षाओं के लिए अलग अलग Sreams की requirement होती है।
  3. UPSC से मिलने वाली सरकारी जॉब के कुछ उदाहरण बताइए।
    उत्तर:- UPSC से आप IAS, IPS, DSP, IFS आदि जैसी कई बड़ी बड़ी जॉब मिलती है।
  4. UPSC किन-किन अनुच्छेदों के अंतर्गत बनाया गया है?
    उत्तर:- अनुच्छेद 323 और 315
  5. UPSC के अधिकारियों का कार्यकाल कितना है?
    उत्तर:- 6 वर्ष

Disclaimer

आज की इस पोस्ट में आप को UPSC Full form in Hindi? के साथ साथ UPSC के कार्य, इतिहास, परीक्षा के बारे में जानकारी मिल गई होगी।

UPSC की full form Union Public Service Commission है और इस की पूरी जानकारी आप को ऊपर की संपूर्ण पोस्ट में दी गई है।

अगर आप को हमारी पोस्ट पसंद आती है तो आप हमारी इस पोस्ट को जरूर दूसरे लोगों तक पहुंचाए और उन्हें भी UPSC के बारे में जानकारी दे।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *